32 Names of Maa Durga | दुर्गाद्वात्रिंशन्नाममाला | Great Durga Dwatrinsha Naamamala Stotra

32 Names of Maa Durga | दुर्गाद्वात्रिंशन्नाममाला | Durga Dwatrinsh Naammala

The miraculous 32 names of Durga ji, whose mere reading destroys all kinds of troubles, gets freedom from all kinds of fear and wins over enemies.

This nomenclature is self-evident. This nameplate is also of great importance in getting relief from the effects of Rahu’s dasha. It is very beneficial in getting rid of bad habits, getting rid of taxes and curing incurable diseases. Chanting this stotra in Navratri gives results soon and Goddess Durga fulfills your wishes. By chanting this name with full devotion, the mother fulfills every wish.

Once upon a time, Brahma ji and all the deities together worshiped Bhagwati Maa Durga. Pleased with this, Mother Durga asked the gods to ask for a boon as per their wish. The gods said hey! Goddess, you have taken away all the troubles of our three people and made the whole world fearless. You are always kind to your devotees and for them you are like a Kalpavriksha. All the deities prayed to Maa Durga and asked her to suggest such a remedy for her devotees, by which they could soon be happy and protect the devotees surrounded by troubles.

Hearing the prayers of all the gods, Goddess Durga said that this is a very rare and secret secret. By chanting these 32 names of Durga Mata, all kinds of calamities will be destroyed. There is no other praise like it.

 

दुर्गा जी के चमत्कारी 32 नाम जिनको पढ़ने मात्र से सभी प्रकार के संकटों का नाश होता है, सभी तरह के भय से मुक्ति मिलती है तथा शत्रुओं पर विजय मिलती है।

यह नामावली स्वयं सिद्ध है। राहु की दशा के प्रभाव से राहत दिलाने में भी इस नामावली का बहुत महत्व है। बुरी आदतों से मुक्ति, कर से मुक्ति और असाध्य रोगों को दूर करने में यह अत्यंत ही लाभकारी है। इस स्तोत्र का नवरात्र में जप करने पर शीघ्र ही फल प्राप्त होता है और मां दुर्गा आपकी मनोकामना को पूर्ण करती हैं। इस नामावली का जप पूरे भक्ति भाव के साथ करने पर मां हर मनोकामना को पूर्ण करती हैं।

एक बार की बात है जब ब्रह्मा जी और सभी देवता गणों ने मिलकर भगवती मां दुर्गा की पूजा की। जिससे प्रसन्न होकर मां दुर्गा ने देवताओं से उनकी इच्छा अनुसार वर मांगने को कहा। देवताओं ने कहा कि हे! देवी आपने हमारे तीनों लोगों के सारे संकटों को हर लिया है और संपूर्ण संसार को निर्भय कर दिया है। आप अपने भक्तों पर सदा ही दया करती है तथा उनके लिए आप कल्पवृक्ष के समान हैं। सभी देवताओं ने मां दुर्गा से प्रार्थना की और कहा कि वह अपने भक्तों के लिए ऐसा कोई उपाय बताएं जिसको करने से शीघ्र ही प्रसन्न होकर संकटों से घिरे हुए भक्तों की रक्षा हो सके।

सभी देवताओं की प्रार्थना सुनकर देवी दुर्गा ने कहा कि यह अत्यंत ही दुर्लभ व गोपनीय रहस्य है। मेरे इन 32 नाम को जपने से सभी प्रकार की विपत्तियों का नाश हो जाएगा। इसके समान दूसरी कोई स्तुति नहीं है।

 

32 Names of Maa Durga
32 Names of Maa Durga | दुर्गाद्वात्रिंशन्नाममाला

 

32 Names of Maa Durga | दुर्गा माता के बत्तीस नाम

 

दुर्गा दुर्गार्तिशमनी दुर्गापद्विनिवारिणी।

Durgā Durgārtiśamanī Durgāpadvinivāriṇī.

दुर्गमच्छेदिनी दुर्गसाधिनी दुर्गनाशिनी

Durgamacchēdinī Durgasādhinī Durganāśinī.

दुर्गतोद्धारिणी दुर्गनिहन्त्री दुर्गमापहा।

Durgatōd’dhāriṇī Durganihantrī Durgamāpahā.

दुर्गमज्ञानदा दुर्गदैत्यलोकदवानला

Durgamajñānadā Durgadaityalōkadavānalā.

दुर्गमा दुर्गमालोका दुर्गमात्मस्वरूपिणी।

Durgamā Durgamālōkā Durgamātmasvarūpiṇī.

दुर्गमार्गप्रदा दुर्गमविद्या दुर्गमाश्रिता

Durgamārgapradā Durgamavidyā Durgamāśritā.

दुर्गमज्ञानसंस्थाना दुर्गमध्यानभासिनी।

Durgamajñānasansthānā Durgamadhyānabhāsinī.

दुर्गमोहा दुर्गमगा दुर्गमार्थस्वरूपिणी

Durgamōhā Durgamagā Durgamārthasvarūpiṇī.

दुर्गमासुरसंहन्त्री दुर्गमायुधधारिणी।

Durgamāsurasanhantrī Durgamāyudhadhāriṇī.

दुर्गमाङ्गी दुर्गमता दुर्गम्या दुर्गमेश्वरी

Durgamāṅgī Durgamatā Durgamyā Durgamēśvarī.

दुर्गभीमा दुर्गभामा दुर्गभा दुर्गदारिणी।

Durgabhīmā Durgabhāmā Durgabhā Durgadāriṇī.

नामावलिमिमां यस्तु दुर्गाया मम मानवः

Nāmāvalimimāṁ Yastu Durgāyā Mama Mānava.

Pahēt Sarvabhayānmuktō Bhaviyati Na Sanśaya.

पठेत् सर्वभयान्मुक्तो भविष्यति संशयः

 

1 Durgā, 2 Durgārtiśamanī, 3 Durgāpadvinivāriṇī, 4 Durgamacchēdinī, 5 Durgasādhinī, 6 Durganāśinī, 7 Durgatōd’dhāriṇī, 8 Durganihantrī, 9 Durgamāpahā, 10 Durgamajñānadā, 11 Durgadaityalōkadavānalā, 12 Durgamā, 13 Durgamālōkā, 14 Durgamātmasvarūpiṇī, 15 Durgamārgapradā, 16 Durgamavidyā, 17 Durgamāśritā, 18 Durgamajñānasansthānā, 19 Durgamadhyānabhāsinī, 20 Durgamōhā, 21 Durgamagā, 22 Durgamārthasvarūpiṇī, 23 Durgamāsurasanhantrī, 24 Durgamāyudhadhāriṇī, 25 Durgamāṅgī, 26 Durgamatā, 27 Durgamyā, 28 Durgamēśvarī, 2 9 Durgabhīmā, 30 Durgabhāmā, 31 Durgabhā, 32 Durgadāriṇī.

 

दुर्गा, दुर्गार्तिशमनी, दुर्गापद्विनिवारिणी, दुर्गमच्छेदिनी, दुर्गसाधिनी, दुर्गनाशिनी, दुर्गतोद्धारिणी, दुर्गनिहन्त्री, दुर्गमापहा, १० दुर्गमज्ञानदा, ११ दुर्गदैत्यलोकदवानला, १२ दुर्गमा, १३ दुर्गमालोका, १४ दुर्गमात्मस्वरूपिणी, १५ दुर्गमार्गप्रदा, १६ दुर्गमविद्या, १७ दुर्गमाश्रिता, १८ दुर्गमज्ञानसंस्थाना१९ दुर्गमध्यानभासिनी, २० दुर्गमोहा, २१ दुर्गमगा, २२ दुर्गमार्थस्वरूपिणी, २३ दुर्गमासुरसंहन्त्री, २४ दुर्गमायुधधारिणी, २५ दुर्गमाङ्गी, २६ दुर्गमता, २७ दुर्गम्या, २८ दुर्गमेश्वरी, दुर्गभीमा, ३० दुर्गभामा, ३१ दुर्गभा, ३२ दुर्गदारिणी।

 

Navratri Mata 2
32 Names of Maa Durga | दुर्गाद्वात्रिंशन्नाममाला | Great Durga Dwatrinsha Naamamala Stotra 

 

 

S.No.Hindi NameEnglish NameHindi Meaning
1दुर्गाDurgāकठिनाइयों से राहत
2दुर्गातिशमनीDurgātirśaminīकठिनाइयों का शमन करने वाली
3दुर्गापद्धिनिवारिणीDurgāpadvinivāriṇīकठिन विपत्तियों का निराकरण करने वाली
4दुर्गमच्छेदनीDurgamacchedinī,कठिनाइयों का काटने वाली
5दुर्गसाधिनीDurgasādhinīकठिनाइयों को निष्कासित करने के लिए अनुशासन का प्रदर्शन करने वाली
6दुर्गनाशिनीDurganāśinīकठिनाइयों का नाश करने वाली
7दुर्गतोद्धारिणीDurgatoddhāriṇīकठिनाइयों के कोप को धारण करने वाली
8दुर्गनिहन्त्रीDurgenihantrī,कठिनाइयों का विनाश करने वाली
9दुर्गमापहाDurgamāpahāकठिनाइयों को मापने वाली
10दुर्गमज्ञानदाDurgamgyandāकठिनाइयों से राहत का बोध कराने वाली
11दुर्गदैत्यलोकदवानलाDurgadaityalokadavānalāकठिनाइयों के संसार का नष्ट करने वाली 
12दुर्गमाDurgamāकठिनाइयों से राहत प्रदान करने वाली माता
13दुर्गमालोकाDurgamālokāकठिनाइयों का समझने वाली
14दुर्गमात्मस्वरूपिणीDurgamātmasvarūpiṇīआंतरिक कठिनाइयों की आत्मा
15दुर्गमार्गप्रदाDurgamārgapradāकठिनाइयों से निकलने का मार्ग खोजने वाली
16दुर्गमविद्याDurgamavidyāकठिनाइयों का ज्ञान कराने वाली
17दुर्गमाश्रिताDurgamāśritāकठिनाइयों से मुक्ति दिलाने वाली
18दुर्गमज्ञानसंस्थानाDurgamgyansanthanaकठिनाइयों के अस्तित्व का निरंतर बोध कराने वाली
19दुर्गमध्यानभासिनीDurgamadhyānabhāsinīध्यान मात्र से कठिनाइयों का नाश करने वाली
20दुर्गमोहाDurgamohāकहिनाइयों का मोहने वाली
21दुर्गमगाDurgamagāकठिनाइयों का समाधान करने वाली
22दुर्गमार्थस्वरूपिणीDurgamārthasvarūpiṇīकठिनाइयों के आंतरिक स्वरुप का जानने वाली
23दुर्गमासुरसंहन्त्रिDurgamāsurasanhantrīकठिनाइयों के असुर का हनन करने वाली
24दुर्गमायुधधारिणीDurgamāyudhadhāriṇīकठिनाइयों का समाप्त करने के लिए शाश्त्र धारण करने वाली
25दुर्गमांगीDurgamāńgīकठिनाइयों की शुद्धि करने वाली
26दुर्गमताDurgamatāजो कठिनाइयों से परे है
27दुर्गम्याDurgamyāकठिनाइयों का भागने वाली
28दुर्गमेश्वरीDurgameśvarīकठिनाइयों की साम्राज्ञी
29दुर्गभीमाDurgabhīmāकठिनाइयों के लिए भयंकर
30दुर्गभामाDurgabhāmāकठिनाइयों की देवी
31दुर्गभाDurgabhāकठिनाई रुपी अन्धकार से प्रकाश की ओर लाने वाली
32दुर्गदारिणीDurgadāriṇīकठिनाइयों का काटने वाली

 

By chanting these names one gets freedom from all kinds of fears. If the enemy is troubling then only by reciting these 32 names of Durga Mata one gets freedom from troubles. There is no doubt about it. Durga Mata said that there is no other way to destroy fear at the time of calamity. There is no harm to a person by reciting this Naammala.

 

इन नामों को जपने से सभी प्रकार के भयों से मुक्ति मिल जाती है। अगर शत्रु परेशान कर रहा हो तब इन 32 नामों (32 Names of Durga Mata) के पाठ करने मात्र से ही संकटों से मुक्ति मिल जाती है। इसमें कोई भी संदेह नहीं है। दुर्गा माता ने कहा कि विपत्ति के समय भय का नाश करने का उपाय कोई दूसरा नहीं है। इस नाममाला का पाठ करने से मनुष्य को कोई हानि नहीं होती।

 

Jap Vidhi at Difficult Times

Mixing honey in the Siddha fire of this Naam rosary and performing a havan with white sesame seeds frees a person from all kinds of calamities. Make a beautiful octagonal idol out of clay of Maa Durga, wear red clothes and worship that idol according to the law and pronounce the names with red flowers. Perform Havan while chanting mantras and offer bhog. By doing this, a person can prove even inaccessible deeds.

 

असाध्य कार्यों की जप विधि

इस नाम माला का सिद्ध अग्नि में शहद मिलाकर, सफेद तिल के साथ हवन करने से मनुष्य सभी तरह की विपत्तियों से छूट जाता है। मां दुर्गा जी की मिट्टी से सुंदर अष्टभुजा मूर्ति बनवा कर उन्हें लाल वस्त्र पहना कर उस प्रतिमा की विधि विधान से पूजा करें तथा लाल कनेर के पुष्पों के साथ नामों का उच्चारण करें। मंत्रों का जाप करते हुए हवन करें तथा भोग लगाएं। इस प्रकार करने से मनुष्य असाध्य कर्मों को भी सिद्ध कर सकता है।

 

Navratri Puja 3

 

Puja Process of 32 Names of Durga Mata

You can chant this name anytime. But if you chant it during Navratri, it will be especially fruitful.

Waking up early in the morning, after retiring from bath, sit on a seat in any Durga ji’s temple or in your home after worshiping Maa Durga. The posture should be pure. The seat should be of Kush or silky red color cloth. Keep in mind that your face should be towards East or North. Light a lamp and meditate on Maa Durga ji with a calm mind.

After this, garland 5, 11, 21 or according to your reverence. You chant this for 9 days in Navratri and pray to the mother to fulfill your wishes. By doing this, Maa Durga will definitely fulfill all your wishes.

 

If you have any query related to Durga Dvatrinshannaammala / 32 Names of Durga Mata then write in comment section or you can also email us.

Jai Maa Durga!!

 

मां दुर्गा के 32 नामों के पूजन की विधि

इस नामावली का जाप आप कभी भी कर सकते हैं। लेकिन अगर आप नवरात्र में इसका जप करेंगे तो यह विशेष फलदाई होगा।

सुबह जल्दी उठकर स्नानादि से निवृत्त होकर किसी दुर्गा जी के मंदिर में या अपने घर में मां दुर्गा जी की पूजा के बाद आसन पर बैठ जाएं। आसन शुद्ध होना चाहिए। आसन कुश का या रेशमी लाल रंग के वस्त्र का होना चाहिए। ध्यान रहे कि आपका मुंह पूर्व या उत्तर की तरफ हो। दीपक जलाकर शांतचित्त होकर मां दुर्गा जी का ध्यान करें।

इसके बाद 5, 11, 21 या अपनी श्रद्धा अनुसार माला फरें। नवरात्र में 9 दिनों तक आप यह जाप करें और अपनी मनोकामना को मां से पूरा करने की प्रार्थना करें। इस प्रकार करने से मां दुर्गा आपकी सभी मनोकामनाएं को अवश्य ही पूर्ण करेंगी।

 

अगर आपको दुर्गाद्वात्रिंशन्नाममाला (Durga Dvatrinshannaammala / 32 Names of Durga Mata) से संबंधित कोई भी सवाल हो तो कमेंट सेक्शन में लिखें या आप हमें ईमेल भी कर सकते हैं।

जय मां दुर्गा!!

Leave a Comment

error:
%d bloggers like this: